जियो फोन में एनएफसी क्या है? एनएफसी का इस्तेमाल क्यों किया जाता है?

By | September 18, 2021

जियो फोन में एनएफसी क्या है? एनएफसी का इस्तेमाल क्यों किया जाता है? – आज इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बताने जा रहे हैं जियो फोन में एनएफसी क्या है? एनएफसी का इस्तेमाल क्यों किया जाता है? तो साथियों अगर आप जानना चाहते हैं कि जियो फोन में एनएफसी क्या है? एनएफसी का इस्तेमाल क्यों किया जाता है? तो यह आर्टिकल आखरी तक पूरा पढ़िए। इस आर्टिकल में आपको जिओ फोन एनएफसी से जुड़ी हुई सभी जानकारी विस्तार से बताई गई है।

क्या आप ब्लूटूथ शेयर इट या अन्य फाइल ट्रांसफर करने वाले एप्लीकेशन से छुटकारा पाना चाहते हैं? इन सभी सवालों का जवाब हां है तो आज आप बिल्कुल सही आर्टिकल पर आए हैं क्योंकि आज इस आर्टिकल में हम आपको एक ऐसी आधुनिक तकनीक के बारे में बताएंगे जिस तकनीक का इस्तेमाल करके आप बिना किसी एप्लीकेशन के एक फोन से दूसरे फोन में किसी भी महत्वपूर्ण डांटा या इंफॉर्मेशन को ट्रांसफर कर सकते हैं। इस तकनीक का नाम एनएफसी है।

जैसा की आप सभी को पता है आज टेक्नोलॉजी पहले से कई गुना ज्यादा डेवलप कर चुकी है। पहले के समय में एक मोबाइल फोन से दूसरे मोबाइल फोन में डाटा ट्रांसफर करने के लिए मेमोरी कार्ड या डाटा केबल का इस्तेमाल किया जाता था। इसके बाद टेक्नोलॉजी धीरे-धीरे करके डिवेलप हुई औरत ब्लूटूथ या अन्य फाइल ट्रांसफर एप्लीकेशन और सॉफ्टवेयर का अविष्कार किया गया। इन सॉफ्टवेयर और एप्लीकेशन की मदद से आप बिना डाटा केबल या किसी फिजिकल डिवाइस का इस्तेमाल किए अपने डेटा या इंफॉर्मेशन को एक मोबाइल से दूसरे मोबाइल मे आसानी से ट्रांसफर कर सकते हैं।

Read More – Top 5 Best Google Chrome Extension For Computer

लेकिन अभी हाल ही में एक ऐसी टेक्नोलॉजी डेवलप हुई है जिसका इस्तेमाल करके आप बिना किसी एप्लीकेशन के बिना ब्लूटूथ के बिना फिजिकल डिवाइस के केवल दो मोबाइल फोन को आपस में टच करके उनका डाटा एक दूसरे में ट्रांसफर कर सकते हैं। यह बिल्कुल एक जादू के जैसा है। यही आधुनिक तकनीक एनएफसी के नाम से जानी जाती है।

एनएफसी तकनीक सबसे पहले जिओ मोबाइल फोन में देखने को मिली है। अगर आपके पास जियो मोबाइल फोन है तो आप अपने जियो मोबाइल फोन की सेटिंग में जाकर एनएफसी ऑप्शन देख सकते हैं। जब भी कोई व्यक्ति जिओ मोबाइल फोन की सेटिंग ऑप्शन में जाता है और उसे एनएफसी ऑप्शन देखने को मिलता है तो हमारे मन में ढेर सारे प्रश्न आते हैं क्योंकि हमें पता नहीं होता जियो एनएफसी क्या है? जिओ एनएफसी एक ऐसा फीचर है जिसके बारे में कहीं पर भी विस्तार से नहीं बताया जाता इसलिए हम सभी जानना चाहते हैं जिओ एनएफसी क्या है? जिओ एनएफसी सिस्टम का इस्तेमाल क्यों किया जाता है?

जिओ एनएफसी क्या है?

दोस्तों अब हम आपका ज्यादा समय बर्बाद ना करते हुए आपको बताते हैं जियो फोन में एनएफसी क्या है? आपकी जानकारी के लिए बता दूं एनएफसी एक प्रकार का आधुनिक डाटा ट्रांसफर सिस्टम है। एनएफसी का फुल फॉर्म नियरेस्ट फील्ड कम्युनिकेशन है। एनएफसी एक ऐसी तकनीक है जिसके द्वारा आप दो मोबाइल फोन को आपस में टच करके उनके बीच कम्युनिकेशन कर सकते हैं और डाटा तथा इंफॉर्मेशन का आदान-प्रदान कर सकते हैं।

आइए हम आपको इसे एक उदाहरण के द्वारा समझाते हैं। मान लीजिए आप अपने एक जियो फोन से किसी दूसरे जियो फोन में डाटा ट्रांसफर करना चाहते हैं इसके लिए आप ब्लूटूथ या बिना किसी एप्लीकेशन का इस्तेमाल करके भी डाटा ट्रांसफर कर सकते हैं। इसके लिए आपको एनएफसी सिस्टम का इस्तेमाल करना पड़ेगा। सबसे पहले आपको दोनों जियो फोन में एनएफसी ऑन करना है।

इसके बाद आपको उन दोनों मोबाइल फोन को आपस में टच करना है। जैसे ही दोनों मोबाइल फोन आपस में टच होंगे दोनों में एनएफसी एक्टिवेट हो जाएगा। अब स्क्रीन में आपको पेयर ऑप्शन दिखाई देगा। पेयर ऑप्शन पर क्लिक करते हैं दोनों मोबाइल फोन आपस में कनेक्ट हो जाएंगे। अब आप एक फोन से डाटा या इंफॉर्मेशन आसानी से दूसरे मोबाइल फोन में ट्रांसफर कर सकते हैं।

एनएफसी की रेंज कितनी होती है?

दोस्तों अगर आप सोच रहे हैं कि एक बार दोनों मोबाइल फोन को आपस में टच करने के बाद आप उन्हें दूर करके डाटा ट्रांसफर कर सकते हैं तो आप गलत सोच रहे हैं। जब तक दोनों मोबाइल रेंज में रहेंगे तभी उनके बीच में कम्युनिकेशन होगा। एनएफसी की रेंज मैक्सिमम 5 सेंटीमीटर है। अगर दोनों मोबाइल फोन एनएफसी से कनेक्ट है और आपने अपने एक मोबाइल को 5 सेंटीमीटर से दूर कर दिया तो कनेक्शन डिस्कनेक्ट हो जाएगा।

निष्कर्ष

साथियों यह आज आपके लिए एक छोटी सी जानकारी थी। आज इस आर्टिकल में हमने आपको बताया एनएफसी क्या है? जिओ एनएफसी का इस्तेमाल क्यों किया जाता है? आशा करता हूं यह जानकारी आपको पसंद आई होगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *