URL क्या है और कैसे काम करता है ?

By | December 13, 2020

क्या आपको भी ये सवाल परेशान करता है।

URL kya hai और कैसे काम करता है ?

तो कोई बात नहीं आज मैं आपको URL के बारे में पूरी जानकारी दूंगा।

मेरा नाम है अतुल और आप सभी लोगो का मेरे ब्लॉग जुगाड़े में स्वागत है।

आज मैं एक बहुत ही मजेदार topic के ऊपर बात करने वाला हु। वो है URL kya hota hai और कैसे काम करता है?

हम जब सुरु में internet का इस्तेमाल करते है तो URL का नाम बहुत बार सुनते है।

जैसे में दोस्त होता है वो बोलता है मैंने वीडियो का URL भेजा दिया है।

उसपर click करके वीडियो देख लो। या हम कोई internet पर आर्टिकल पढ़ रहे होते है।

यदि वो अच्छा होता है हमारे लिए लाभदायक होता है। तो हम उसका यूआरएल कॉपी करके अपने दोस्त को शेयर कर देते है।

जिसपर वो क्लिक करके उस artical को आसानी से read कर लेता है। यूआरएल को लिंक भी कहा जाता है।

तो चलिए url kya hai hindi me विस्तार पूर्वक जानते है।

URL kya hai

URL क्या है ?( what is url in hindi ?)

URL की मदद से हम किसी वेबसाइट या वेब पेज को देखते है। यानि की यूआरएल एक प्रकर का कोड होता है।

जो किसी भी वेबसाइट या फाइल के पेज को रिप्रेसेंट करता है।

या अगर हम उसे simple भाषा में समझे तो।

हम यूआरएल के मदद से किसी वेब पेज तक आसानी से पहुंच सकते है।

यूआरएल एक प्रकार का किसी भी वीडियो ,वेबसाइट या फाइल का एड्रेस होता है।

जिसकी मदद से हम आसानी से उस वीडियो तक पहुंच जाते है।


मान लीजिये आपको आपके दोस्त के घर जाना है और आपके पास उसका address नहीं है।

लेकिन आपको उसके शहर का नाम मालूम है , लेकिन आपको उसके घर जाना है। तो आप क्या करेंगे।

मैं बताता हु आप उसके शहर में जायेंगे, फिर आप कई लोगो से उसके घर का पता पूछेंगे।

तब फिर आप उसके घर जायेंगे।

लेकिन वही यदि आपको उसके घर का पता मालूम है तो आपको कोई परेशानी ही नहीं होगी। आप आसानी से उसके घर चले जायेंगे।

ठीक उसी प्रकार यूआरएल होता है। यूआरएल एक प्रकार का किसी भी वीडियो ,वेबसाइट या फाइल का एड्रेस होता है।

जिसकी मदद से हम आसानी से उस वीडियो या वेबसाइट को देख लेते है।

मान लेते है आज हमने इंटरनेट पर एक वीडियो देखा। और चार दिन के बाद फिर हम उस वीडियो को देखना चाहते है।

तो वो हमें गूगल में जाकर सर्च करना होगा। लेकिन सायद वो हमें वीडियो नहीं भी मिले। तो हमें बहुत दुःख होता है।

लेकिन यदि हम उस वीडियो के URL को कॉपी करके एक जगह रख लेते है, और फिर हमें जब भी जरूरत पङता है।

तो हम उस लिंक पर क्लिक करके वो वीडियो देख लेते है। जिससे हमें कहि जाना नहीं पङता है।

url full form in english/hindi


URL का पूरा नाम Uniform Resource Locator(यूनिफार्म रिसोर्स लोकेटर) होता है।

यूआरएल की शुरुआत सबसे पहले सन 1994 में Tim Berners Lee ने किया था।

URL किसे कहते है ?


website , video या file को जिस address के मदद से internet पहचानता है उसे url कहा जाता है।

यूआरएल को हम एक और नाम से भी जानते है वो है यूनिफार्म रिसोर्स लोकेटर।

चलिए यूआरएल को निम्न तरिके से समझते है।
जैस में इस ब्लॉग का यूआरएल है http://www.zugade.com/
यूआरएल तीन चार चीजों से मिलकर बनता है।

1:-http: इसका पूरा नाम होता है hypertext transfer protocol होता है।

इसकी मदद से इंटरनेट के डाटा अदान -प्रदान होता है। http एक server होता है।

2:-www. : इसका पूरा नाम वर्ल्ड वाइड वेब होता है। यह एक सर्विस होती है।

जो एक वेबसाइट या वीडियो को खोजने का काम करती है।

3:-zugade. : यह वेबसाइट या संस्था का नाम है।

4:-.com : इसको हम डोमेन नाम भी कहते है। यह ये दर्शाता है की वेबसाइट किस प्रकार की है।

डोमेन नाम कई प्रकार के होते है जैस में .org, .net, .online , .com, .in आदि। डोमेन नाम में पहले (.) लगता है।

हम सर्च बार में जाकर यदि Zugade.com ही केवल सर्च करते ह। तो उसे सर्च इंजन http मान लेता ह।

और फिर उसे http://www.zugade.com/ के साथ पूरा url show करने लगता है।

तो मैं उम्मीद करता हु की आपको ये समझ में आ गया होगा की URL kya hai .

URL कैसे काम करता है?

internet पर जीतनी भी website है, उनकी एक IP address होता है। वो IP address numerical होता है।

यदि हम google.com का IP address देखे तो वो ये है 64.233.167.99 ।

हम जब भी किसी website का url google के search bar में type करते है।

तो उसके बाद google उस URL को DNS की मदद से IP address में बदल देता है।

फिर उसके बाद हम उस वेबसाइट तक पहुंच जाते है। जो हमने google के search bar में search किया था।

पहले क्या होता था की search engine डायरेक्ट IP address से किसी website को एक्सेस करता था।

जो की बहुत कठिन था। क्योकि इतना ज्यादा नंबर याद रखना बहुत मुश्किल होता था।

इसलिए बाद में DNS ( Domain Name System) बनाया गया।

जिसके बाद अब किसी भी website का नाम याद रखना आसान हो गया है।

हमने क्या जाना :-


हमने आपको इस आर्टिकल के माध्यम से ये बताया की URL kya hota hai और URL कैसे काम करता है ?
मैं माफ़ी चाहता हु की इतने छोटे से सवाल का मैंने बङा जवाब दिया।

लेकिन मेरी हमेशा से यही चाह होती है की मैं जो भी सवाल का जवाब दू वो आपको समझ में आये।

तो मैं उम्मीद करता हु की आपको ये आर्टिकल URL kya hai और कैसे काम करता है?।
आपको बेहद पसंद आया होगा यदि आपके लिए ये जानकारी helpful रहा होगा तो दोस्तों के साथ share करना न भूले।
यदि आपको ऐसे ही जानकारी चाहिए तो आप मेरे ब्लॉग को subscribe भी कर सकते है। जिससे मेरी हर एक artical आप तक सीधे पहुंचे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *